Wednesday, November 12, 2014

98. Megh in Surat

98. Megh in Surat: "GAZETTEER OF THE BOMBAY PRESIDENCY- SURAT AND BROACH"
VOLUME II.

PRINTED AT THE GOVERNMENT CENTRAL PRESS, 1877. में भी अहमदाबाद के जन जीवन का जो वर्णन है तकरीबन वैसा ही सूरत और भड़ौच का भी है। सामाजिक और आर्थिक हालात और सामाजिक ओहदा या स्तरीकरण का वही हाल है। अतः पुरावृति भय से नहीं दिया जा रहा है। जो लोग इच्छुक हो वे गजेटियर देख ले। 

No comments:

Post a Comment